राजनीति

नयी सोच नयी क्रांति

40 Posts

1427 comments

Reader Blogs are not moderated, Jagran is not responsible for the views, opinions and content posted by the readers.
blogid : 8082 postid : 590158

तुम जियो हजारों साल..........

Posted On: 1 Sep, 2013 Others,कविता,Special Days में

  • SocialTwist Tell-a-Friend

जे जे के सम्मानित एवम हम सभी के प्रिय और आदरणीय जनों को जन्मदिन कि हार्दिक शुभकामनाएँ

3sep3-SEP

6 sep6-SEP    7 sep7-SEP

15 sep

15-SEP

सौभाग्य प्रकट करता हूँ मैं की मुझको है यह काम मिला,

आप जनों की ही शिक्षा है जिससे जग में कुछ नाम मिला,

निति सदा सिखाती है नीतिज्ञों का सम्मान रहे,

कुछ भी करने से पहले मर्यादा का ध्यान रहे,

यहाँ मंच पर कुछ चरित्र व्यर्थ प्रलाप भी करते हैं,

कभी – कभी बालक जैसे वो आपस में भी लड़ते हैं,

ना लड़े कोई ऐसे कोई नव-सूत्र का अब निर्माण करें,

बिखराव सरल होता किन्तु आप सबों के दिल जोड़ें,

प्रेम वाटिका के प्रांगन में मधु – मधु ही होते हैं,

जो भौरें भी होते उनमें भी विष थोड़े ही होते हैं,

आप सदा माली रहना ताकि बगिया फुले महके,

हम जैसे नन्हीं तितली इस बगिया में हर दम चहके,

निजी जीवन में खुशियाँ हों जो दिन दुनी और रात बढ़े,

ख्याति तो जग में पहले थी यह ऊपर थोड़ी और चढ़े,

आपके चरणों को छुकर अब दिल की बात बताता हूँ,

अपनी बातों को कहने का मूल अभी समझाता हूँ,

जो भी हो चाहे कठनाई वो हटे और खुशियाँ बनी रहे,

किंतु सबसे जो जरुरी है “यह धार कलम की बनी रहे”

आप सभी आदरणीय मार्गदर्शकों आदरणीय निशा मैंम, आदरणीय शशि सर, आदरणीय अलका मैंम और हम सबके आदरणीय नानाजी प्रदीप सर को  हमारे ओर से जन्मदिवस की हार्दिक शुभकामनाएँ (एडवांस)

आगे भी प्रेम एवम स्नेह बना रहे

ANAND PRAVIN

Rate this Article:

1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (4 votes, average: 5.00 out of 5)
Loading ... Loading ...

4 प्रतिक्रिया

  • SocialTwist Tell-a-Friend

Post a Comment

CAPTCHA Image
*

Reset

नवीनतम प्रतिक्रियाएंLatest Comments

PRADEEP KUSHWAHA के द्वारा
September 3, 2013

परम स्नेही मेरे नाती श्री जी , आपने अपने कार्य और व्यवहार से अपने साथ साथ कुल का मान बढाया , मेरे लिए गर्व की बात है, की मेरा नाती बड़ा हो गया. . दीर्घायु एवं यशश्वी भव. —————————————————————————————————————— परम आदरणीया निशा जी, अलका जी , हमरे छुटके भैया जी स्नेही आदरनीय शशि भूषण जी को जन्म दिन पर हार्दिक शुभ कामनाएं. . मंच पर भले ही मुलाकात न हो पर दिल में होती रहती है. . जितने हमारे मित्र शुभ कामनाएं दे चुके हैं उनका भी आभार आगे का अग्रिम आभार. . नेत्र विकार होने के कारण मंच पर समय नहीं दे पा रहा हूँ. मेरे ही पाठक अपनी रचनाओं पर मेरी टिप्पणी न पाकर मुझे भी इनकार कर रहे हैं. .इसको ही समय कहते हैं. वन्दे मातरम् जय भारत

sinsera के द्वारा
September 1, 2013

अपनी बधाई में मेरी भी बधाई शामिल कर लीजिये.. आदरणीय निशाजी, शशिभूषण जी, अलका जी और दादा को जन्मदिन की शत शत बधाइयाँ…और आनंद प्रवीण जी को सराहनीय कार्य के लिए साधुवाद..

jlsingh के द्वारा
September 1, 2013

प्रवीणता हो अगर कलम में आनंद सभी को आता है, भोला भाला मुखड़ा हँसता प्यार सभी का पाता है. चारो अग्रज चार दिशाएं बाँध रखे इस अवनि को अनुज इन्ही के आंगन में चूमें अपनी लेखनि को बधाई हो बधाई जन्म दिन की सबको जनम दिन हो ऐसा मिलेंगे लड्डू हमको!

Santlal Karun के द्वारा
September 1, 2013

आदरणीय वन्धु प्रवीण जी, हिन्दी और हिन्दी प्रेमियों के प्रति आप की निष्ठा और ऐसा भाव भरित सम्मान अनुकरणीय है; हार्दिक साधुवाद एवं सद्भावनाएँ !


topic of the week



latest from jagran